जनगणना

जनगणना का शाब्दिक अर्थ है मनुष्यों की गणना, किंतु आधुनिक अर्थ में जनगणना किसी क्षेत्र या देश के ग्राम, नगर या उपक्षेत्रों के निवासियों की संख्या तथा तत्संबंधी विभिन्न तथ्यों जैसे आयु, लिंग, शिक्षा, कार्यकलाप, निवास, आश्रितों तथा धर्म आदि की संख्या के अतिरिक्त कृषि, उद्योग धंधों, पशु धन, खनिज एवं अन्य प्राकृतिक तथा जन-साधनों का समसामयिक वैज्ञानिक विवरण प्रस्तुत करती है। अत: ‘जनगणना’ संसार के लगभग सभी सभ्य देशों में साधारण आवधिक गणना मात्र ही नहीं, प्रत्युत निवासियों की संख्या तथा तत्संबंधी अन्य तथ्यों का समसामयिक विवरण प्रस्तुत करने वाली राष्ट्रीय संस्था हो गई है, जिसपर प्रशासनिक एवं आयोजना संबंधी सरकारी नीतियाँ निर्धारित होती हैं। भारत में अब तक 15 बार जनगणना हो  चुकी है | भारत की जनसँख्या के अद्यतन आंकड़े जानने के लिए  क्लिक करे