राजस्व परिषद्

राजस्व परिषद् में अध्यक्ष के अतिरिक्त दो प्रशासनिक एवं 7 न्यायिक सदस्य होते है | यह समस्त भूमि रिकार्ड्स की देखभाल तथा नियंत्रण करने के साथ समस्त राजस्व, प्रशासनिक तथा न्यायालीय प्रकरणों का निस्तारण भी करता है | उ.प्र. भू-राजस्व अधिनियम के सेक्शन 5 में दिए प्रावधानों के अनुसार ये भू राजस्व, तथा भू रिकार्ड्स बंदोबस्त से सम्बंधित समस्त नॉन-जुडिशल मुकदमो का निर्धारण करता है | भू राजस्व तथा भूमि रिकॉर्ड से सम्बंधित नॉन-जुडिशल प्रकरणों में राज्य सरकार की शक्तियां राजस्व परिषद् में निहित है |

राजस्व परिषद् के प्रमुख प्रशासकीय कार्य :

  1. मंडलीय आयुक्त, जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी व तहसीलदारों के कार्यो की देखरेख, दिशा तथा नियंत्रण | उपर्युक्त समस्त अधिकारियो के कार्यों व आचरण की वार्षिक रिपोर्ट सरकार को प्रदान करना |
  2. तहसीलदार, नायब तहसीलदार व सदर कानूनगो का अधिष्ठान
  3. जिला व मंडल स्तर के अधिकारीयों का अधिष्ठान
  4. राजस्व परिषद् के इलाहबाद व लखनऊ कार्यालयों के खातों का अधिष्ठान
  5. राज्य संपत्तियों तथा उप्निवेशानो का प्रशासन
  6. रिकार्ड्स का अवलोकन तथा बंदोबस्त
  7. भू लेखो का रख रखाव
  8. भू कृषि से सम्बंधित आकड़ो का एकत्रीकरण, गणना एवं प्रकाशन
  9. भू सुधारो की देखभाल, दिशा व क्रियान्वयन
  10. लेखपालों, कानूनगो व अन्य स्टाफ का प्रशिक्षण
  11. नगरीय क्षेत्रो में ज़मीदारी उन्मूलन से सम्बंधित कार्य
  12. उ.प्र.ज़मींदारी विनाश एवं भू राजस्व एक्ट के अंतर्गत प्रतिकारो के भुगतान से सम्बंधित कार्य
  13. उ.प्र. भू सीलिंग एक्ट के अंतर्गत प्रशासन
  14. भू अधिग्रहण तथा भू अधिग्रहण अधिकारी के कार्यो का अधिष्ठान
  15. तकावी एक्ट के अनुसार जिले तथा मंडल स्तर पर तकावी ऋण का निर्धारण एवं बंटवारा
  16. भू राजस्व, भू विकास कर, सिंचाई एवं तकावी जैसे देयो से सम्बंधित कार्य की दिशा व देख रेख | अन्य डे है :-
    • चकबंदी व्यय
    • वन देय
    • आबकारी देय
    • व्यापार कर
    • मोटर वाहन कर
    • विकास कर
    • कारखाना कर
    • कृषि बीज देय
    • विद्युत् देय
    • आदि
  17. बाढ़, सूखा, कमी तथा आपदा आदि के समय सरकार की सहायता करना
  18. राजस्व भवनों का निर्माण एवं रख रखाव
  19. प्रदेश के समस्त राजस्व नन्यायालयों के कारो का पर्यवेक्षण
  20. कृषि व पशु गणना कराना
  21. लघु बचत से सम्बंधित कार्य
  22. निष्क्रांत संपत्ति से सम्बंधित कार्य
  23. राजस्व परिषद् निम्न के लिए विभाग-प्रमुख का कार्य करता है :-
    • राजस्व कर्मी, लेखपाल, उप-निबंधक, कानूनगो, रजिस्ट्रार कानूनगो, सुपरवाईजर कानूनगो के लिए निदेशक
    • भू सुधर कार्यो के लिए भू सुधर कमिश्नर
    • ज़मींदारी विनाश एवं प्रतिकार भुगतान के लिए प्रतिकार कमिश्नर
    • बंदोबस्त के लिए बंदोबस्त कमिश्नर
    • राजस्व कर्मियों के लिए विभाग प्रमुख

    इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे